महंगाई एक एहम मुद्दा ।'s image
International Poetry DayPoetry2 min read

महंगाई एक एहम मुद्दा ।

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH March 22, 2022
Share0 Bookmarks 39 Reads0 Likes

आज सुबह सुबह एक बार फिर से पड़ी आम इंसान पर महंगाई की दोहरी मार ।

पेट्रोल डीज़ल के साथ साथ 50रुपए तक बढ़ गये रसोई गैस सिलेंडर के दाम ।


महंगाई रोज़ की रोज़ बढ़ती ही जा रही ।

गरीब और मिडिल क्लास वालों को तंग करती ही जा रही।


मीडिया वाले कह रहे के इस बार पेट्रोल और डीज़ल का दाम 137दिन बाद है बढ़ा ।

मंदी है बहुत ज्यादा इसीलिए तो आज कल हर बाज़ार खाली है पड़ा।


सिर्फ़ पेट्रोल और डीज़ल के दाम ही नहीं बढ़ेंगे ।

अब तो हर चीज़ के दाम और भी बढ़ेंगे ।


दूध 2रुपए पहला ही महंगा हो गया ।

कितने लोगों का लॉकडाउन में काम चला गया ।


बेरोजगारी हद से ज्यादा है बढ़ी ।

युवाओं के पास एक से बड़ी एक डिग्री है पड़ी ।


युवाओं का भविष्य अंधकार में जा रहा ।

कई युवाओं को इतना पढ़ लिख जाने के बाद भी उनकी मर्ज़ी के हिसाब से काम ना मिला ।

अपने बच्चों के भविष्य को लेकर आज हर मां बाप को डर सता रहा ।


अब लगता है कभी कम ना हो पायेगी महंगाई ।

 महंगाई के मुद्दे पर लिखने के लिये प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां ने अपने बेटे सनी के हाथों में ये जादुई कलम पकड़ाई✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts