Happy Birthday Vinod kambali 's image
Share0 Bookmarks 25 Reads0 Likes

आज हमारे देश की राजनीति में चलती है पैसों को लेकर पूरी धांधली।

जन्मदिन है जिनका आज नाम है उनका विनोद कांबली ।


किसी को मोहब्बत मिलती यहां किसी को मिलती है बेवफ़ाई।

कोई शायर ऐसे भी होते जिन्होंने की किसी की इबादत इस तरह के रातों को जाग जाग के उनके लिये इस साल की सबसे बड़ी ग़ज़ल बना के दिखाई।


चलो आज करते है विनोद कांबली की बात ।

बताते है इनकी ज़िन्दगी से जुड़े कुछ राज़।



मुंबई के इंद्रा नगर में कांबली का जन्म हुआ था।

कैरियर विनोद कांबली का उतार चढ़ावों से भरा रहा था।


विनोद कांबली के पिता मैकेनिक का करते थे काम।

आज भी दर्ज़ है कई रिकॉर्ड विनोद कांबली के नाम। 


सचिन तेंडुलकर(315) के साथ शारदाआश्रम स्कूल की तरफ़ से खेलते हुऐ विनोद कांबली ने(349) 664रन की रिकॉर्ड सांझेदारी थी निभाई।

लेकिन किस्मत विनोद कांबली की सचिन तेंदुलकर की तरह चमक ना पाई।

कुछ लोगों ने इसकी वजह विनोद कांबली की खुद की की हुई गलतियां को ही बताई।


अपने पहले 7टेस्ट मैचों में कांबली ने 4शतक थे लगाये।

टेस्ट मैचों में सबसे तेज़ 1000रन भी विनोद कांबली ने अपने वक्त में थे बनाये।


हर किसी ने विनोद कांबली की बल्लेबाज़ी की खूब तारीफ़ की थी।

अपने समय में विनोद कांबली ने कुछ फिल्में भी की थी।


विनोद कांबली की निजी ज़िन्दगी में भी मुश्किलें कई आई।

.कांबली की पहली पत्नी नोएला लैविस नोएला से तलाक के बाद मॉडल आंद्राय हैविट विनोद कांबली की ज़िन्दगी में आई।


कई बार टीम से विनोद कांबली को अंदर तो कभी बाहर किया गया।

विनोद कांबली ने कई बार टीवी पर आकर कहा की उनके साथ अक्सर भेद भाव किया गया।

सचिन तेंदुलकर पर भी कांबली ने इल्ज़ाम कई बार लगाया जब मुझे सबसे ज्यादा जरूरत थी तब सचिन तेंदुलकर मेरे दोस्त से भी मेरा साथ ना दिया गया।


बुरा वक्त बड़े से बड़े लोगों को अच्छा खासा सबक सिखाता ।

इंसान को उसकी सही औकात ये ज़माना नहीं उसका बुरा वक्त दिखाता।

सनी खुद कुछ नहीं लिखता ये तो प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां का आशिर्वाद है जो अपने बेटे सनी से रोज़ कुछ ना कुछ लिखवाता✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts