एक दर्द भरी कहानी ।'s image
International Poetry DayPoetry2 min read

एक दर्द भरी कहानी ।

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH April 5, 2022
Share0 Bookmarks 35 Reads0 Likes

जो लोगों की शादियों में नाचने का करते है काम ।

आज की पोस्ट उन तमाम लड़के और खास तौर पर उन लड़कियों के नाम ।


क्या किसी ने सोचा है रोटी कमाना नहीं होता उनके लिए आसान।

क्योंकि जो लड़के और खास करके जो लड़कियां नाचती है लोगों की शादियों में हमारा समाज उन्हें कभी नहीं देता मान सम्मान।


भूखा पेट इंसान से बहुत कुछ करवाता।

जो लड़की अपने परिवार को पालने के लिए डीजे पे नाचती लोगों को उसके बारे में गलत बोलने का हक पता नहीं कहा से अपने आप मिल जाता।


कुछ गिरे हुऐ लोग अक्सर उनसे करते गंदी गंदी बातें।

क्या कभी सोचते है वो लोग वो भी तो है अपने मां बाप की होती है लाड़ली औलादे।


किसी की बेटी को अगर मजबूरी में लोगों के सामने नाचना पड़े।

कुछ गिरे हुऐ लोग उन लड़कियों पे अपने पैसे या पावर के दम पे गलत हरकते करे।


वो मासूम लड़कियां अकेले बैठ के रोती हुई अक्सर कहती है।

हमारे जैसे नाचने का काम कभी कोई लड़की ना ही करे।


किसी ने किस मजबूरी में अपने जिस्म को बेचा होगा।

उस वक्त उस इंसान ने कितनी दरिंदगी से उस औरत को नोचा होगा।

उस औरत के घरवालों को दो वक्त की रोटी मिल सके ये ख्याल अपनी हवस मिटाने वाले इंसान के दिल में कभी ना आया होगा।


कितनी बार देखने को मिलता है अक्सर शराब पीकर लोग शादियों में बहक जाते।

नशे में धुत होकर गोलियां तक चलाते।


अक्सर कुछ बेवाकूफ लोगों की वजह से शादियां टूट जाती।

उनकी चलाई हुई गोलियां से अक्सर किसी ना किसी की मौत तक हो जाती।


कभी कभी तो बारात दुलहन को लिए बिना वापिस तक चली जाती।

प्रभु और नीलू दीदी की दी हुई कलम तो हमेशा सनी से सच लिखवाती✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts