बेटी दिवस की आप सबको शुभकामनाएं 's image
International Poetry DayPoetry3 min read

बेटी दिवस की आप सबको शुभकामनाएं

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH September 25, 2022
Share0 Bookmarks 31 Reads0 Likes

कई लोग आज बेटी दिवस मनाएंगे।

देखते है प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां मिलकर अपने बेटे सनी से आज बेटी दिवस के मुद्दे पर क्या लिखवाएंगे ।


दिल से बताना एक बात क्या हमारे देश में आज भी बहू बेटियों को उनका हक मिल पाता है।

आज भी कई मां बाप का अपनी बेटियों को लेकर दिल बहुत घबराता है ।


आज भी हमारे देश में बहू बेटियां सुरक्षित नहीं है।

लेकिन इस बात की फिक्र सिर्फ़ मां बाप के इलावा किसी सरकार को नहीं है।


एक बेटी अपने किसी भी फर्ज़ से कभी पीछे नहीं हटती।उसकी खुद की ज़िन्दगी में कई परेशानियां घटती।

कांटो भरा सफ़र होता है एक बेटी की ज़िन्दगी का फिर भी बेटी हंस के चलती।


पहले एक बेटी,फिर एक बहन,फिर एक बीवी,एक मां कितने रूप में देखने को मिल जाती है। 

ज़िन्दगी का हर रोल अच्छे से निभा निभाती है।

दुख ज़िन्दगी में हजारों आते एक बेटी के फिर भी एक बेटी का दिल कितना बड़ा होता वो अपने हर गम को अपने दिल में दबा लेटी है।


शादी के बाद क्या मरते दम तक एक बेटी कभी अपने परिवार से दूर हो ना पाती।

पहले अपने मां बाप के घर को संवारने का फिर शादी के बाद अपने ससुराल को संवारने की कला एक बेटी को अच्छी तरह से है आती।


लेकिन सब कुछ करने के बाद भी बेटी ससुराल वालों की नजरों में पराई की पराई रह जाती।

लेकिन कुछ बहुओं को बेटियों वाली इज्ज़त बिना मांगे ही मिल जाती।


और कुछ मां बाप की लाडलिया बेटियां इस खुशी से अक्सर वंचित ही रह जाती।

लेकिन अक्सर ये बात कई औरतों के दिल पे लग जाती ।


और मां बाप के कुछ बेटियों को ससुराल में अक्सर सब कुछ अच्छा करने के बाद भी कई बातें सुना दी जाती।

 उस वक्त उस बेटी की आंख भर आती।


और उस वक्त उन बेटियों को अपने मां बाप की बहुत याद आती।

चाह कर भी वो बेटी कुछ कर ना पाती।


प्रभु,नीलू दीदी की कलम में इतनी ताकत है इसलिए तो हर मुद्दे पे अपने बेटे सनी से लिखवाती✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts