फ़र्ज़'s image
Share0 Bookmarks 44 Reads2 Likes

कोई सुने न सुने कहना भी ज़रूरी है,



कोई पढ़े न पढ़े लिखना भी ज़रूरी है



मेरा ज़मीर न भेजे कभी लानत मुझ पर



मेरा जो फ़र्ज़ है वो करना भी ज़रूरी है

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts