ज़िंदगी का सुकून's image
Share0 Bookmarks 113 Reads2 Likes

लिखना मेरा उनको नागवार गुजरता है,


सुकूँ मेरी जिंदगी को मयस्सर नही शायद।


©गोपाल भोजक


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts