वनवासी's image
Share0 Bookmarks 96 Reads2 Likes

हिज्र का दर्द, रात अंधेरी और तेरी यादें,


वनवासी सी हो गई मेरी राम कहानी।


©गोपाल भोजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts