तुम्हारी नज़ारे's image
Share0 Bookmarks 104 Reads1 Likes

तुम ज़रा अपनी नज़रें तो झुकाओ,

दिल की धड़कने बढ़ रही है हमारी।

©गोपाल भोजक



No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts