मस्त आँखें's image
Share0 Bookmarks 126 Reads0 Likes

जिन आँखों से मस्त हुआ करते थे,

अब तरस रहे है उस मयखाने को।

©गोपाल भोजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts