जुदाई के दिन's image
Share0 Bookmarks 106 Reads0 Likes

वस्ल की रात गुज़र गई बातों में,

तेरी जुदाई के दिन सदियों से है।


©गोपाल भोजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts