होली...'s image
Share0 Bookmarks 106 Reads0 Likes

होली आई रंग भरी, वो न आया अबकी बार,

रंगों की पोटली लिए बेरंग सा लगे त्योहार,

सब दुनियां मे रंग बरसे मची चंग की धूम,

बिन साजन के पिचकारी भी लगे शूल सी अंग।

©गोपालभोजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts