बीते दिन...'s image
Share0 Bookmarks 136 Reads0 Likes

हमने कुछ वफ़ा पे लिखा कुछ लिखा रुसवाई पर,


बीते दिनों की मेरे पास बस इतनी सी निशानी है।

©गोपाल भोजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts