थकान's image
Share0 Bookmarks 29 Reads1 Likes

थकान

बढ़ रही है

समय दर समय

दिन ब दिन

बहुत आगे

बढ़ चुकी है ये थकान

जिम्मेदारियों को

ढोते-ढोते

हो जाती है

सुबह से शाम

सपनों के पीछे

भागते-भागते

न चैन न आराम

सफलता मिले न मिले

बस मिल जाए वो मुकाम

जिसे पाकर

उतरने लगे

थकान...














No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts