सूचना's image
कविशाला की सूचना देखा अभी
कुछ लिखा नहीं अभी लिखिए
अभी अभी जगाया गया हूं
कहा कहा खोया गया हूं
दिशा बदला , घूमाया गया हूं।
ईमान खफा , बेवफा
मन में भी अंधकार है
खुद के खिलाफ बढ़ना कठिन
और कृष्ण से हमको प्यार है

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts