छुना नहीं's image
Share0 Bookmarks 63 Reads0 Likes
छुना नहीं , यहां विस्मात है अंकित ,
बहेले हौशले है , आसां लगे मंजिल ,
अवस्था जैसे कोई , सधारणं गगन रिमझिम ,
छु लिया ! तो खा गया स्वभावी ।
स्वत: उत्तर आये ,प्रश्न भी बौखलाये ,
जश्न में यूं डूबाये , फिरे दाहिने बाएं ,
भवर शिथिल सुनाएं , मौन मन मग्नगाये ,
हासिक धारणाएं , अनुभव बन बुनायं ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts