हिन्दी : भावों से भरी भाषा's image
Poetry1 min read

हिन्दी : भावों से भरी भाषा

Dinesh GirirajDinesh Giriraj January 10, 2022
Share0 Bookmarks 165 Reads3 Likes

स्वभाव में सरल सी

जल स्वरुप तरल सी

विन्रम और नरम सी

हिन्दी... भावों से भरी भाषा

कवि की कविता सी

शब्दकोष की है, यह महिमा सी

व्यक्त.. खुद को आसानी से कर जाती

हिन्दी... भावों से भरी भाषा

जन जन का, एहसास सी

पल पल होती मानों, सबके पास ही

लिए.. अनेक अर्थों की परिभाषा

हिन्दी... भावों से भरी भाषा

             


-दिनेश गिरिराज

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts