ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I's image
Poetry1 min read

ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I

Devanand lal KarnaDevanand lal Karna May 13, 2022
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I 
कोई जिन्दगी का मजा लेता है, 
किसी की जिन्दगी मजे लेती है I 
किसी की यूँ ही खुशी से कट जाती है, 
किसी को काटने की मजबूरी होती है I
ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I

किसी को जोड़ने की फुर्सत तक नहीं होती, 
किसी की जोड़ते-जोड़ते ही बीत जाती है I 
किसी के इम्तिहानों की दौड़ 
कभी खत्म ही नहीं होती, 
किसी की यूँ ही बेधड़क निकल जाती है I 
ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I

किसी को महलों में भी सुकून नहीं मिलता, 
कोई फुटपाथ पर भी जिन्दगी जी लेती है I 
किसी को दो जुन की रोटी तक नसीब नहीं होती, 
कोई खाने का अंबार कचरे में फेंक देती है I 
ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I

किसी के लिए ईद-दिवाली भी 
कोई मायने नहीं रखता, 
किसी की हर रोज ही 
ईद-दिवाली होती है I
ये जिन्दगी बड़ी ही अजीब होती है I 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts