तुम क़ायनात हो मेरी's image
1 min read

तुम क़ायनात हो मेरी

DeepakmehraDeepakmehra June 16, 2020
Share0 Bookmarks 47 Reads0 Likes

तुम क़ायनात हो मेरी यही जानता था,

सबसे ज्यादा तुझे मानता था।

न समझ नहीं था पर न जाने क्यों,

मेरा सब कुछ में तुझे मानता था।



No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts