मेरी माँ's image
Share0 Bookmarks 55 Reads0 Likes

मैं मंदिरों में कम जाया करता हूँ , अक्सर

माँ के पैरों में ही ईश्वर की सेवा कर लेता हूँ ।

क्यों इतनी लंबी दूरी तय करूं , शिवालयों का

घर में ही माँ को महामृत्युंजय मंत्र अर्पण कर लेता हूँ ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts