जनता है देश मेरा's image
Learn PoetryPoetry1 min read

जनता है देश मेरा

dakshalvyas19dakshalvyas19 January 26, 2023
Share0 Bookmarks 24 Reads2 Likes

मुश्किलें कई है आसमां छुना जानता है देश मेरा

ना मुमकिन को मुमकिन कर ना जनता है देश मेरा

तकनीक की कमी थी मंगल पर जाना जानता है देश मेरा

खेल जगत में पर्चेम लहराना जनता है देश मेरा

रंग कई है मगर सरहद पर लहू बहाना जनता है देश मेरा

ठान लिया तो करना जनता है देश मेरा

विकास करना जनता है विनाश करना जनता है

प्रगति की राह पर चलना जनता है देश मेरा

धर्म कई है धर्म का सम्मान करना जनता है देश मेरा

हिंसा है मगर गांधी के असुलो पर चलाना जनता है देश मेरा

भगत कि बाजुएं रखना जनता है देश मेरा

असमानता है मगर अमीरों को साथ गरीबों को हाथ पकड़ कर

सबको साथ लेकर चलना जानता है देश मेरा

अकाल हैं कई देशों में विश्व पेट भरना जानता है देश मेरा

रोते को हंसाना जनता है देश मेरा

है देश कई इस विश्व में

भारत सा महान कोई नहीं ।


दक्षल कुमार व्यास



No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts