दोस्त's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
काफी है जिंदगी के लिए इतने गम
तू और देने की जेहमत ना उठा,,,,,,,

दोस्त है , मार सकता है तू निगाहों से
बेकार में  हाथ से कयामत ना उठा,,,,,,,

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts