मेरा जीवन भी एक होली है's image
Hindi DiwasPoetry1 min read

मेरा जीवन भी एक होली है

Brijesh ChaturvediBrijesh Chaturvedi January 12, 2022
Share0 Bookmarks 65 Reads1 Likes
चंद साँसें गर्म सी, कुछ नमकीन से पल
चंद आहें सर्द सी, कई तकरारें चटपटी-चंचल
चंद यादें भींगी-भागी, कुछ मीठे-खट्टे एहसास
और जीवन से भी लंबे कुछ लम्हे, सूखे-टूटते-सिसकते अविरल


स्याह सी तनहाईयाँ, सिमटे हुए पल,
और पन्नों में दबे कुछ बसंती फूल
सुर्खियाँ आँखों में, ठहरी हुई,
कुछ आँसुओं की मेहर तो कभी सिर्फ़ थोड़ी धूल

हवा के झोंके से बीतने वाले चंद खुशी के पल,
ठिठोली करते हुए से लगते हैं
और कहीं यौवन की गोद में,
मोहब्बतों-ख्वाहिशों की कराहें रहती हैं झूल

ज़मीर की इक सफेद चादर पर
दर्द के इतने रंगों की रंगोली है
मेरा जीवन भी एक होली है

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts