shayri's image
Share0 Bookmarks 36 Reads1 Likes
मुझसे मज़हबों की बात न करे कोई...
तस्बीह तोड़ दी ज़ुन्नार फेंक दी मैंने!
#bina

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts