उन्होंने कहां मेरी बारात सजी चाहिए
हमारा जनाजा भी उससे कम न चाहिए
-'s image
Love PoetryPoetry1 min read

उन्होंने कहां मेरी बारात सजी चाहिए हमारा जनाजा भी उससे कम न चाहिए -

Bhadresh DesaiBhadresh Desai October 30, 2021
Share0 Bookmarks 15 Reads1 Likes
Kavishala

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts