.'s image
जिसे खिला-खिला दिन स्वीकार है वह धूप की मनमानियों के लिये सूरज को दोषी नही ठहरा सकता ।
-निमित्त निर्मूल

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts