ज़िन्दगी's image
Share0 Bookmarks 32 Reads0 Likes
एक एक दिन करके गुज़र रही है,
ये ज़िन्दगी जैसे रोज़ मर रही है।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts