वफ़ा की मूरत's image
Poetry1 min read

वफ़ा की मूरत

AZAD MADREAZAD MADRE September 17, 2022
Share0 Bookmarks 7 Reads0 Likes
वो जो वफ़ा की मूरत था वो ख़फ़ा हो जाएगा,

बेवफ़ा लगता ही नही था बेवफ़ा हो जाएगा।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts