वादे और इरादे's image
Love PoetryPoetry1 min read

वादे और इरादे

AZAD MADREAZAD MADRE January 9, 2022
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
बेजान और बेमतलब इरादों की तरह,
दिल टूट गया है उसके वादों की तरह।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts