तलाक़'s image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
तलाक़ बस दो लोगों का नही होता,

अज़ाब होता है ये दो घरों का दुख।

~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts