परवाह's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
अब क्या ही परवाह करें किसी की हम,
कि अब कुछ बचा ही नही है होने को।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts