कुंडलियां's image
Poetry1 min read

कुंडलियां

AZAD MADREAZAD MADRE May 27, 2022
Share0 Bookmarks 6 Reads0 Likes
दिल मिलने की बात सब क्यों नही करते,
क्यों कईलोग पहले कुंडलियां मिलाते है।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts