झूठ's image
Share0 Bookmarks 47 Reads1 Likes
कितने कागज़ बेताब है रंगीन होने को,
मगर झूठ लिखा ही नही जाता हमसे।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts