इम्तेहान's image
Share0 Bookmarks 42 Reads0 Likes
तेरे इम्तहानों में क़ामयाब होने के लिए,
मैं क्या करूँ तुम्हें यक़ीन होने के लिए।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts