हक़ीक़त's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
हक़ीक़त सामने ही खड़ी थी वो भी उदास,
सुबह जब मुस्कुराते हुए मैं ख़्वाब से उठा।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts