हलाल's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
बचपन से मिली है जिन्हें हलाल की रोटी,
वो बुरे से बुरे दौर में भी नही बिक सकते।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts