पुण्य's image
क़भी नज़रों का ग़ुरूर बनाया,
गले लगाकर क़भी अपना बनाया,
तपस्या मैंने की वर्षों तक, जिसके इश्क़ की,
इक अनजाने को उसने अपना पुण्य बनाया।

#क़लम✍

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts