कोशिश's image
अब दिल की बातें किसे बताऊंगा,
अपनी बेतुकी शरारतों से किसे हंसाऊंगा,
हर दिन भरसक कोशिशें करता हूँ, भुलाने की जिन्हें,
ग़र किसी रात न आयी याद उनकी, फ़िर किसे भुलाऊंगा।

#क़लम✍

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts