#जिंदगी's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes

जब भी तुम्हें किसी
बीज के रोपित होने से लेकर
उसके उगने तक में दिलचस्पी पैदा हो जाए..

जब किसी फटेहाल
अर्धनग्न स्त्री को
देख के तुम्हें याद आ जाए,
अपनी मां का आंचल..

जब तुम्हें किसी फूल को तोड़ने
से ज्यादा
उसको खिलते देखने में सुकून
मिलने लगे..

जब तुम्हें बेजान चीजों में भी
हलचल सी
महसूस होने लगे..

जब गलत होता हुआ देखकर
तुम चुनो
#विरोध
#मौन के बदले

तब समझ जाना...
तुम प्रेम में सरोबार जिंदगी
के सबसे खूबसूरत
हिस्से को जी रहे हो..

फिर चाहें वो हिस्सा
दैहिक हो
आत्मिक हो
या फिर प्राकृतिक..
******************
#अस्काम_K_आइना

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts