हिन्दी's image
Share0 Bookmarks 77 Reads1 Likes
भाषा का भावपूर्ण रहना,
काल खण्ड के इतिहास को कहना,
स्मृतियो को सहेजकर रखना,
समर शेष जिन्हे है गढ़ना,
आत्मसात हर क्षण को करना,
वर्तमान मे भविष्य को रचना,
जनमानस से नायक को कहना,
धरोहर,  हृदय लगाकर रखना,
वीर की वीरता को परखना,
नायक को महिमामंडित करना,
यह सभी, भाषा के कृति है,
भाषा से ही सब होता सुगम,
भाषा की व्याकरण से तृप्ति है,
भाषा मे फिर हिन्दी उद्गम, 
भारत के हृदय मे रची बसी,
सभी भाव को परिपूर्ण किया,
जनमानस की भाषा बनकर,
नित्य नये आयाम रचित किया,
ना उच्च निच का अंतर जिसमे,
ना किसी प्रकार की विषमता,
समाज के प्रेरणास्रोत जिससे,
सीख गुढ ज्ञान और समरसता,
कल्याण पथ प्रशस् हुआ, 
जब संस्कत ने हिन्दी को जना।
जब संस्कत ने हिन्दी को जना।
आशुतोष गौतम 
#हिन्दी दिवस #Hindiday

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts