विश्व गुरु's image
Share2 Bookmarks 46 Reads4 Likes

विश्व गुरु जब बनकर उभरा 

तब आत्मनिरभरता आयी है 

स्मार्ट सिटी बन सब पूर्ण हुई 

जो देश मे स्वछता लायी है 


गाँव झोपडी जब महल बने 

तब गाँव मे खुशियां आयी है 

इसी विकास को देख जनता 

अंखियां आँसू भर लायी है


स्मार्ट गाँव ने रहने की अबतो 

जनता ललक होड़ को लायी है  

कोरोंना तो बस एक बहाना है 

इसलिये जनता सड़क पे आयी है


जब सब जनता गाँव मे होगी 

तब एक और क्रांती आयेगी 

ज़र्जर शहर  तोड़ के सरकार 

उन्हे स्मार्ट से स्मार्ट बनायेगी 


विश्व मे ऐसे उद्योग न होंगे 

ऐसे ऐसे उद्योग लगबायेगी

जब न्यू उद्योग रनिंग मे होंगे

तब वापस जनता बुलबायेगी

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts