हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा's image
Poetry3 min read

हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा

anujwithuanujwithu September 14, 2021
Share0 Bookmarks 9 Reads1 Likes

हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा


हिंदी से ही हमारी शान है, वाणी के लिए हमारी ये वरदान है।

है संस्कृति की परिभाषा इसी से, चेतना और वेदना का प्रमाण है।।

हिंदी से तुलसी और सूरदास है, हिंदी से निराला और प्रेमचन्द में जान है।

हिंदी में हमारा राष्ट्रगान है, हिंदी को राष्ट्रभाषा का सम्मान है।।...१


संस्कृत से जन्म हुआ हिंदी का, आज सारे जग में इसकी पहचान है।

सुंदर, मीठी और सरल है भाषा, साहित्य में इसका असीम योगदान है।।

बोलचाल में यह सुगम है, इसमें हर रिश्ते को सम्मान है।

देश यु तो बहुत सी भाषाओं की खजाना है, हिन्दी का सर्वाेत्तम स्थान है।।...२


हिंदी में ईश्वर का प्रवचन, हिंदी से भजन, आरती और ईश्वरीय ज्ञान है।

हिंदी में है समाचार, हिंदी में ही चलचित्र और चित्रहार या गान है।।

हिंदी में रिश्तों की मिठास है, टीवी के सीरियल बिना इसके वीरान है।

हिंदी से जीवन अपना चलता, बिना इसके मूक हिंदुस्तान हैं।।...३


राजनीति में ऐसे चेहरे आते हैं, भाषा के नाम से आपस में लड़ाते है।

अपनी भाषा के नाम लोग बहकते है, देश को बाँटने का मुद्दा बनाते हैं।।

बच के रहना हमें इन चेहरो से, हम हर भाषा को सम्मान दिलाते है।

हिंदी में सम्मान हर भाषा को, नीचा ना किसी को दिखाते हैं।।...४


वक्त ने थोड़ा पलटा खाया है, अंग्रेजी ने यहां अब पैर जमाया है।

स्कूलो में अंग्रेजी को प्यार मिला है, हिंदी को अब थोड़ा भुलाया है।।

ऑफ़िस में अंग्रेजी वाला सफल हुआ है, हिंदी वाला गवार कहलाया है।

हिंदी हमारी मात्रभाषा है, इसे हमने ना जाने क्यों भुलाया है।।...५


बन गई है आज हिंदी बुढ़िया, अंग्रेजी को दुलहनिया माना है।

विवेकानंद का भारत है, यह फिर सब को याद दिलाना है।।

हिंदी भाषा से प्यार करें, संदेश दुनिया में फिर आज पंहुचाना है।

हिंदी सभी जोड़ती हुई इक डोर है, इससे सबके हाथ में थमाना है।।...६



---अनुज गुप्ता</div><div class=

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts