एक दौर था...'s image
Share0 Bookmarks 27 Reads0 Likes
एक दौर था जब वो हमसे बेतहासा प्यार करते थे,
गर देर भी हो जाती थी कभी, तो वो घँटों इंतेजार करते थे, ।
और आज मंजर ये है कि, वो imaginary roots सा समझ लिए है मुझको, ।
मुझे ढूँढते भी हैं, अपनी यादों के equation में,
aur jb mai mil bhi jata हूँ, kbhi achanak se raaste me, तो मुझे पूरी तरह ignore कर देते हैं,
इसी complex roots ki तरह।।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts