नव वर्ष संकल्प's image
Poetry1 min read

नव वर्ष संकल्प

Ankur AggarwalAnkur Aggarwal January 1, 2022
Share0 Bookmarks 35 Reads0 Likes


नव वर्ष, चहुँ ओर हर्ष |

कुछ संकल्प, कुछ इरादे अंतर में भरता हूँ |

खुद को बेहतर करने के वादे मैं पक्के करता हूँ |


अहंकार को देखुँगा अपने, 

काम, क्रोध पर संयम रखूँगा |

प्रतिक्रिया न हो मन में मेरे, 

साक्षी मैं कितना बनता हूँ |


खुद को बेहतर करने के वादे मैं पक्के करता हूँ |


भूल जाऊँ अपनी ही बातें, 

याद मुझे दिलाना दोस्तों |

नफरत, घृणा देखो मुझमें, 

प्रेम मुझे सिखाना दोस्तों |

तुम सब पहले ही अच्छे हो, 

देखो मैं भी कितना बनता हूँ |


नव वर्ष, चहुँ ओर हर्ष |

कुछ संकल्प, कुछ इरादे अंतर में भरता  हूँ |

खुद को बेहतर करने के वादे मैं पक्के करता हूँ |


~ अंकुर अग्रवाल

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts