चुनाव है आया।'s image
1 min read

चुनाव है आया।

Anil jaswalAnil jaswal October 8, 2021
0 Bookmarks 5 Reads0 Likes
किसान आंदोलन जोर पे,
सरकार तोड़ने पे आमादा,
विपक्ष  जिंदा  रखने पे,
साधारण आदमी परेशान,
उसको पड़ती दोहरी मार,
अगर सरकार के साथ जाता,
तो किसान संगठन नहीं छोड़ता,
और अगर  किसान संगठन के साथ आता,
तो सरकार के  लाभ सेे बंचित होता।

आखिर हुुआ वही,
जिसका डर,
साधारण   किसान आ गया लपेेेटे में,
बेचारा   जान से गया,
तकलीफ उसको,
जिसका गया,
बाकियों के लिए,
है सहानुभूति ‌‌‌‌‌‌‌‌ देने का  समय,
राजनितिक फसल काटने  का मौका।

सरकार    अभी तक कुछ कर नहीं पाई,
विपक्ष   भी  सिर्फ देता दुहाई,
तो बात कैैसे रिझ पाएगी।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts