शराबों सिगरटों से क्या मिला है's image
1 min read

शराबों सिगरटों से क्या मिला है

Amulya_MishraAmulya_Mishra June 16, 2020
Share0 Bookmarks 90 Reads4 Likes

शराबों सिगरटों से क्या मिला है

नशा तो तेरी आँखों का मिला है


हमीं ने हिज्र में उमरें गुज़ारी

सभी को दूसरा मौका मिला है


तुम्हें मंज़िल मिली शुभकामनाएं

हमें मुश्किल से ये रस्ता मिला है


हमें तो वस्ल में मारा गया था

हमें तो ज़हर भी मीठा मिला है


उजालों ने  अँधेरे में रखा है

हमें जो भी मिला झूठा मिला है


हवाओं से गिला कुछ भी नही था 

चरागों से हमें धोखा मिला है


- अमूल्य मिश्रा

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts