सरकार बन जाओ..'s image
Love PoetryPoetry1 min read

सरकार बन जाओ..

Aman MishraAman Mishra April 3, 2022
Share0 Bookmarks 65 Reads2 Likes

 गलियों से उठकर अपनी साहब; सरकार बन जाओ, 

कभी जो मिल जाए कोई यार, तो बस यार बन जाओ।। 


~" अश्क " कवि

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts