माँ की ममता's image
Share0 Bookmarks 38 Reads0 Likes

माँ


माँ की ममता सा नही कोई भी देखा अपना

खून के आँसू से औलाद भी पाला अपना

********************************

पोछने को नही आता यहाँ कोई आँसू

कौन है माँ के सिवाए हमें कहता अपना

*******************************

देखता तक नही औलाद वो जो साहब हो कर

माँ ने औलाद पे घर - बार लुटाया अपना

********************************

ये घरौंदा जो बसाया पसीने से उसने

परवरिश में माँ ने सब कुछ तो लुटाया अपना

**********************************

बोल दो प्यार से तुम भी यूँ कभी बोले हो

माँ के जैसा न मिलेगा यहाँ सच्चा अपना 

*********************************

माँ भी तकलीफों को सह लेती है हँस हँस कर के

दर्द में माँ के अलावा नही दूजा अपना

*********************************

रखकर फ़ाक़ा जिसने दी है उड़ान ये 'आकिब'

हूँ माँ के आगे मैं भी सर यूँ झुकाता अपना

********************************


आकिब जावेद

बाँदा(उ.प्र.)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts