2 लाइन शायरी's image
Poetry1 min read

2 लाइन शायरी

Ajay kishorAjay kishor September 30, 2022
Share0 Bookmarks 25 Reads0 Likes
हर बात कही नहीं जाती, पर 
हर बात सही जरूर जाती है

बहुत खास थे वो जिसने
सिखाया दर्द में हँसना

अक्सर नाम के दोस्त
काम के समय रूठ जाते हैं

दोस्तों की उस भीड़ में खड़े हैं 
जहाँ हम अकेले हैं

दुनिया दारी में पीछे हैं क्योंकि 
सबकी नज़रों में नीचे हैं

खामोश होकर खुश रहता हूँ
आँखों से बस दर्द कहता हूँ

तलाश में खुशी की मिलों चले हैं
सफर बहुत बड़ा है आज तक अकेले हैं

जब समय का चाबुक चलता है
लोहे की चादर की भी चमडी निकलती है


लेखक:- अजय किशोर
मोबाइल न:- 9999191546
Insata ID:- ajaykishor88

#2 लाइन शायरी

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts