पिता की यादें - ( नही हो आप 's image
Father's DayPoetry1 min read

पिता की यादें - ( नही हो आप

Abhinav SrivastavaAbhinav Srivastava January 16, 2022
Share0 Bookmarks 136 Reads1 Likes

आप हो पर नही हो

एहसास है पर नही हो आप


छूना चाहता हूं पर नही हो आप

बातें करनी है पर नही हो आप


हाथ पकड़कर चलना है

बहुत सी बातें करके हंसना है


क्यूं चले गए पापा आप

पुकारना चाहता हूं पापा

पर नही हो आप

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts