मजबूरी's image
Share0 Bookmarks 16 Reads0 Likes
वह नाच रही थी
सज-धज कर

सब
निहार रहे थे
उसका हुस्न

मैं सोच रहा था
क्या है
उसकी मजबूरी?

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts